बाटला हाऊस से सेंट डेनिस तक

Publsihed: 22.Nov.2015, 10:30

अमर उजाला, 22 November 2015

सितंबर २००८ में पांच बम धमाकों के बाद दिल्ïली पुलिस ने बाटला हाउस में छापा मारा तो कई घंटे की मुठभेड़ हुई। दो आतंकी मारे गए और दो भागने में कामयाब हो गए। मुठभेड़ का विशेषज्ञ मोहन चंद्र शर्मा भी मुठभेड़ में मारा गया, लेकिन सत्ताधारी कांग्रेस के एक बड़े नेता ने मुठभेड़ को फर्जी करार दे दिया। सपा, बसपा जैसे करीब करीब सभी दलों ने मुठभेड़ को फर्जी बताया। पूरे देश मेें बवाल हुआ, संसद, मानवाधिकार आयोग और अंतत: अदालत ने मुठभेड़ को असली करार दिया।

नवाज क्यों अमेरिकी दिलचस्पी पैदा कर रहे?

Publsihed: 03.Nov.2015, 14:09

नया इंडिया, 03 November 2015

जम्मू-कश्मीर नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की हरकतों का भारत से कड़ा जवाब मिलने का पाकिस्तान पर गहरा असर हुआ है। तभी अक्तूबर में अमेरिका-पाक वार्ता में नवाज़ शरीफ ने इस मुद्दे पर बाराक ओबामा के सामने गहरी चिंता जाहिर की। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की यह महत्वपूर्ण उपलब्धि मानी जा रही हैं कि संयुक्त राष्ट्र मे विफलता के बावजूद वे बाराक ओबामा के साथ साझा बयान मे नियंत्रण रेखा पर तनाव का उल्लेख करवाने में सफल हुए।