महाराष्ट्र में सत्ता समीकरण बदलेंगे

Publsihed: 03.Dec.2021, 18:09

अजय सेतिया / बंगाल का चुनाव जीतने के बाद से ममता बेनर्जी ने कांग्रेस मुक्त भारत का मोदी का एजेंडा थाम लिया है | याद होगा उन के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने चुनाव नतीजों के तुरंत बाद शरद पवार , अमरेन्द्र सिंह और मेघालय में कांग्रेस विधायक दल के नेता मुकुल संगमा से मुलाक़ात की थी | अमरेन्द्र सिंह ने अलग पार्टी बना कर पंजाब में कांग्रेस को चुनौती दे दी है | वह सोनिया राहुल कोसबक सिखाने और नरेंद्र मोदी के हाथ मजबूत करने के लिए किसान आन्दोलन को नाकाम कने में लगे हुए हैं | मुकुल&

कृष्णजन्मभूमि है तुरुप का पत्ता

Publsihed: 03.Dec.2021, 10:41

अजय सेतिया / यूपी में भाजपा की छह यात्राएं शुरू हो चुकी हैं , अखिलेश यादव ने भाजपा के गढ़ बुन्देलखण्ड से यात्रा शुरू की है , और प्रियंका गांधी ने मुस्लिम वोट बैंक पर सेंधमारी के लिए मुरादाबाद से यात्रा की शुरुआत की है | उधर मुस्लिम वोट बैंक को अपनी जागीर मानने वाले औवौसी ने भी यूपी में डेरा डाल लिया है , ओवैसी से अखिलेश यादव , मायावती और प्रियंका तीनों डरे हुए हैं , क्योंकि पिछले साठ साल से वे मुसलमानों को वोट बैंक के लिए इस्तेमाल करते रहे हैं , इस लिए वे सभी ओवैसी को भाजपा का एजेंट बता रहे हैं , जबकि भाजपा उन्हें विपक्ष का एजेंट बता रही है | कुछ भी हो - पहली बार हैदराबाद के ओवैसी यूपी

टीएमसी बनेगी कांग्रेस का विकल्प ?

Publsihed: 26.Nov.2021, 08:30

अजय सेतिया / ममता बनर्जी ने 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए यूपी और गोवा को टार्गेट करने की रणनीति बनाई है । वह अखिलेश यादव के साथ चुनावी तालमेल करेंगी । अखिलेश यादव ने अरविंद केजरीवाल और जयंत चौधरी से भी तालमेल शुरू कर दिया है । उन्होंने 2017 का विधानसभा चुनाव राहुल गांधी के साथ मिलकर लड़ा था । ख़ुद को चुनावी राजनीति के धुरंधर माननेवाले प्रशांत किशोर ने अखिलेश यादव और राहुल गांधी की जोड़ी बनवाईं थी । याद होगा मोदी की चाय पर चर्चा के जवाब में प्रशांत किशोर ने अखिलेश यादव और राहुल गांधी की खाट रैली करवाई थी । प्रशांत किशोर का दावा था कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जब वह नरेंद्र मोदी के रणनीतिका

टीएमसी बनेगी कांग्रेस का विकल्प ?

Publsihed: 26.Nov.2021, 08:30

अजय सेतिया / ममता बनर्जी ने 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए यूपी और गोवा को टार्गेट करने की रणनीति बनाई है । वह अखिलेश यादव के साथ चुनावी तालमेल करेंगी । अखिलेश यादव ने अरविंद केजरीवाल और जयंत चौधरी से भी तालमेल शुरू कर दिया है । उन्होंने 2017 का विधानसभा चुनाव राहुल गांधी के साथ मिलकर लड़ा था । ख़ुद को चुनावी राजनीति के धुरंधर माननेवाले प्रशांत किशोर ने अखिलेश यादव और राहुल गांधी की जोड़ी बनवाईं थी । याद होगा मोदी की चाय पर चर्चा के जवाब में प्रशांत किशोर ने अखिलेश यादव और राहुल गांधी की खाट रैली करवाई थी । प्रशांत किशोर का दावा था कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जब वह नरेंद्र मोदी के रणनीतिक