Current Analysis

Earlier known as राजनीति this column has been re-christened as हाल फिलहाल.

मसूद अजहर ने ढाई महीने पहले खाई थी हमले की कसम

Publsihed: 14.Feb.2019, 23:31

नई दिल्ली | गुरूवार को जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला हुआ | जिस में 44 जवान शहीद हो गए | पाकिस्तान का आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद पिछले ढाई महीनों से इस हमले की तैयारी कर रहा था | सूत्रों के अनुसार दो दिन पहले ही गुप्तचर एजेंसियों ने बड़े आतंकी हमले की आशंका जताते हुए चेतावनी जारी की थी | मोदी सरकार आने के बाद यह सब से बड़ा आतंकी हमला है, अब जब कि चुनाव सर पपर हैं मोदी सरकार पूरी तरह हिल गई है | अब तक उरी के आतंकवादी हमले को सब से बड़ा आतंकवादी हमला माना जाता था, जिस में 18 जवान मारे गए थे । सितम्बर 2016 में हुए इस आतंकी&n

प्रियंका गांधी का दिमाग सातवें आसमान पर

Publsihed: 14.Feb.2019, 17:49

नई दिल्ली | यूपी में कांग्रेस के पल्ले कुछ नहीं है | कांग्रेस को मझधार में छोड़ कर अखिलेश-मायावती ने गठबंधन कर लिया है | इस के बावजूद यूपी के पूर्वांचल की नई नई प्रभारी कांग्रेस महासचिव बनी प्रियंका गांधी का दिमाग सातवें आसमान पर है | प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के संस्थापक और अखिलेश यादव के चाचा  शिवपाल यादव ने गठबंधन के लिए प्रियंका गांधी को फोन किया तो प्रियंका गांधी ने तुरंत मिलने से इनकार कर दिया | प्रियंका  ने कहा कि अभी उनके पास मिलने का समय नहीं है | 

चीन , हिन्दू अखबार और राहुल का रिश्ता क्या है

Publsihed: 08.Feb.2019, 17:55

अजय सेतिया/ नई दिल्ली | चेन्नई से छपने वाले "द हिन्दू" अखबार और उस के मालिक सम्पादक "एन.राम" की वामपंथी प्रतिबद्धता जगजाहिर है | वामपंथी प्रतिबद्धता के कारण  "द हिन्दू" चीन समर्थक खबरें भी छापता रहता है | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरूवार को लोकसभा में जब राहुल गांधी पर आरोप लगाया कि वह विदेशी इशारे पर भारत की सेना को कमजोर करना चाहते हैं, इसलिए राफेल सौदे पर सवाल उठा रहे हैं , तो उन का इशारा चीन की ओर ही था | राहुल गांधी की ची से सांठ-गाँठ की बातें की दिन से सामने आ रही हैं | राहुल गांधी और "द हिन्दू" में राफेल सौदे को लेकर एक जैसे सवाल उठाए जा रहे हैं |   

गवर्नर ने रिपोर्ट भेजी, टकराव बढने के आसार

Publsihed: 04.Feb.2019, 15:03

नई दिल्ली | (अजय सेतिया ) : पहले बंगाल में सीबीआई अफसरों को हिरासत में लिए जाने और बाद में सुप्रीमकोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की ओर से सीबीआई की याचिका पर तुरंत सुनवाई नहीं करने से आहत केंद्र सरकार ममता सरकार के खिलाफ संविधान की धारा 355 के अंतर्गत एड्वाज्री जारी करने पर विचार कर रही है | सोमवार सुबह गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी से फोन पर बातचीत के बाद उन से रिपोर्ट मंगवा ली है | राज्यपाल ने गृहमंत्री से बातचीत के बाद डीजीपी और मुख्यसचिव को बुलाकर उन से रिपोर्ट ली और केंद्र अरकार को अपनी सिफारिश भेज दी है | मुख्यमंत्री मता बेनर्जी ने आ

मोदी सरकार की किरकिरी, ममता की राजनीति चमकी

Publsihed: 04.Feb.2019, 13:27

नई दिल्ली | (अजय सेतिया ) :मोदी सरकार के विधि एंव न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बारे में बारे भाजपा में धारणा बन रही है कि उनकी अटार्नी जनरल की भारी भरकम टीम केंद्र सरकार और केंद्र सरकार की संस्थाओं का सुप्रीमकोर्ट में बचाव करने में पूरी तरह नाकाम साबित हुए हैं | सोमवार को सीबीआई के ममता बनर्जी के साथ शुरू हुए टकराव के मामले में भी वही हुआ, जब अटार्नी जनरल सीबीआई का पक्ष प्रभावशाली ढंग से नहीं रख पाए , नतीजतन कोर्ट ने तुरंत सुनवाई से इनकार कर दिया | मोदी सरकार की किरकिरी हुई और  ममता की राजनीति चमक गई है, भले ही 24 घंटे के लिए | 

मोदी का भविष्य तय करेंगे ये पांच राज्य

Publsihed: 02.Feb.2019, 16:01
 
  • उत्तर प्रदेश
  • महाराष्ट्र
  • पश्चिम बंगाल
  • बिहार
  • तमिलनाडु

ये ऐसे पांच राज्य हैं जिनके पास सबसे ज़्यादा लोकसभा सीटें हैं।

दो निर्णय बदल देंगे गरीबों और किसानों की ज़िन्दगी

Publsihed: 10.Jan.2019, 14:44

 

अजय सेतिया / नई दिल्ली | यह दो निर्णय गरीब और किसानों की ज़िन्दगी तो बदलेगें ही, परन्तु आने वाले चुनावों में महागठबंधन का भी सूपड़ा साफ़ करेंगे | ब्रहस्पतिवार कैबिनेट की मीटिंग के बाद भारत दो ऐतिहासिक फैसले देखने जा रहा है। यह नए युग की शुरुआत है जिसका नेतृत्व प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं। आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग को 10% आरक्षण को कांग्रेसी वकीलों ने कोर्ट में चुनौती देने की शुरुआत कर दी है , जिस से कांग्रेस की  दिखाई दे रही है | 

भाजपा को तीनों राज्यों में लग सकता है झटका

Publsihed: 06.Oct.2018, 23:02

नई दिल्ली | पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों का एलान हो गया | एलान के तुरंत बाद जनता की क्या राय है , भले ही जनता के मूड को इतनी जल्दी नहीं पहचाना जा सकता , पर एबीपी ने जाने माने सेफोलोजिस्ट यशवंत देशमुख के माध्यम से ओपिनियन पोल के नाम पर तुरुत फुरत एक आकलन अपने चेनल के माध्यम से जनता के सामने रख दिया |

राफेल का ठीकरा कहीं निर्मला सीतारमण पर न फूटे

Publsihed: 29.Aug.2018, 14:48

अजय सेतिया / राफेल एयरक्राफ्ट सौदा कांग्रेस का मुख्य चुनावी मुद्दा होगा | कांग्रेस राफेल के बहाने बोफर्स के दाग धोने में लगी है | साथ ही मोदी को दागी बना कर बचाव मुद्रा में लाने की