India Gate Se

Exclusive Articles written by Ajay Setia

हत्यारा भीडतंत्र बनाम संसद का भीडतंत्र बनाम बोफोर्स

Publsihed: 24.Jul.2017, 22:59

बोफोर्स का भूत रह-रह कर निकल आता है | बोफोर्स घोटाले में 64 करोड़ रूपए की रिश्वत का मामला था | आज तो 64 करोड़ की कोई औकात ही नहीं है | अब स्वीडन में घोटाले की जांच करने वाली एजेंसी के प्रमुख ने 71 साल की उम्र में नया खुलासा कर दिया है | स्टेन लिंडस्ट्रोम ने सीधे राजीव गांधी पर आरोप लगा दिया है | यह खुलासा उनने रिपब्लिक टीवी पर इंटरव्यू में किया है | स्टेन लिंडस्ट्रोम ने कहा है कि 23 जनवरी 1986 को स्वीडन के पीएम आलफ पाल्मे और भारत के प्रधान मंत्री राजीव गांधी के बीच विमान में मीटिंग हुई थी | इस मीटिंग में बोफोर्स कम्पनी के मार्टिन आर्दबो भी मौजूद थे | इस मीटिंग में राहुल गांधी ने 50 मिलियन क्र

वाघेला की पटकनी से जख्मी हुई कांग्रेस  ajaysetia 21.Jul.2017, 23:27

राहुल गांधी ने अभी तो कांग्रेस की बागडोर नहीं संभाली | एक-एक कर पूर्व मुख्यमंत्री छोड़ कर जा रहे हैं | विजय बहुगुणा , एसएम कृष्णा , जगदम्बिका पाल के बाद अब शंकर सिंह वाघेला भी गए | अपन ने कल शुकवार के कालम में ही तो लिखा था-" गुजरात की कांग्रेस भी टूट के कगार पर है | शंकर सिंह वाघेला कभी भी राहुल गांधी को टाटा-बाय-बाय कह सकते हैं | " असल में शुक्रवार को वाघेला का जन्मदिन था | वह 77 साल के हो गए | गुरूवार को दिल्ली में थे , तो कई नेताओं को मिले थे | अफवाह उडी कि उनने राहुल और सोनिया से मिलने का वक्त माँगा है | पर वक्त नहीं मिला, इस लिए वह कांग्रेस छोड़ देंगे | इस में आधा सच था, आधा झूठ | वाघेल

झुग्गी झौपडी वाला दलित राष्ट्रपति  ajaysetia 20.Jul.2017, 21:00

राहुल गांधी ने कई दलितों के घर खाना खाया और एक बार तो रात भी बिताई | वे सब गरीब दलित थे | झुग्गी झौपडी वाले दलित | एक दलित ने तो राहुल को डिनर करवाने के लिए दस किलो आटा उधार लिया था | ये कहानिया दलित प्रेम दिखाने के लिए इस्तेमाल की जाती हैं | उन का उल्लेख संसद के भाषणों में भी किया जाता है | पर जब राष्ट्रपति पद पर दलित उतारने की मजबूरी आई | तो जन्म से ही इलीट क्लास की दलित दिखाई दी | जिस ने ब्राह्मण से शादी की थी और  आईऍफ़एस अधिकारी के नाते ऐशो-आराम की जिन्दगी बिताई | जबकि नरेंद्र मोदी ने बारीश में टपकती छत वाली झुग्गी में बचपन बिताने वाला उम्मीन्दवार चुना | अब एक चाय वाला प्रधानमं

क्या तिब्बत पर मुलायम की सलाह मानेंगे मोदी  ajaysetia 19.Jul.2017, 22:45

डोकलाम विवाद को लेकर चीन के बयान बहुत हमलावर हैं | चीन का विदेश विभाग विदेशी राजदूतों को बुला कर ब्रीफ कर रहा है | युद्धाभ्यास के वीडियो रीलिज कर रहा है | 1962 याद करा कर भारत को धमकी दे रहा है | और इस सब से ज्यादा तो चीन का मीडिया बोल रहा है | चीनी मीडिया ने कहा है कि यद्ध हो सकता है , चीन को तैयार रहना चाहिए | ग्लोबल टाईम्स जो कम्युनिस्ट पार्टी का अखबार है, चीनी सरकार से भी ज्यादा धमकिया दे रहा है | कम्युनिस्ट पार्टी आफ चाईना का यह अखबार लिखता है -"चीन के भीतर आवाजें उठ रही हैं कि भारतीय सैनिकों को तुरंत खदेड़ा जाना चाहिए | जबकि भारतीय जनता का विचार चीन के साथ युद्ध का है |" जैसे अपने यहा

दो-तिहाई से जीतेंगे रामनाथ कोविंद और वंकैया नायडू  ajaysetia 17.Jul.2017, 21:58

संसद का मानसून सत्र शुरू हो गया | राज्यसभा के सांसद अनिल माधव दवे का देहांत हुआ था | लोकसभा के सांसद विनोद खन्ना का भी देहांत हुआ था | इसलिए श्रद्धांजली दे कर दोनों सदन उठ गए | लोकसभा उठने से पहले नए चुने गए सांसदों फारूक अब्दुल्ला और कुन्हालिकुट्टी ने शपथ ली | कुन्हालिकुट्टी केरल से मुस्लिम लीग के सांसद चुने गए हैं | फारुक अब्दुला ने कश्मीरी में ली शपथ में भारतीय संविधान में आस्था जताई है | चुनाव के दौरान वह पाकिस्तान की भाषा बोल रहे थे | लोकसभा में उन्हें सोनिया घांधी के पीछे सीट मिली है | देखते हैं , जब उन का पहला भाषण होगा , तो कश्मीर पर क्या लाईन लेंगे | भारत के साथ दिखेंगे या पाकिस्ता

संसद सत्र आज से, विपक्ष पर क्रास वोटिंग की मार भी आज  ajaysetia 16.Jul.2017, 22:09

सोमवार से संसद का मानसून सत्र शुरू हो रहा है | सत्र  हंगामेदार होना है, ऐतिहासिक भी | पहले हंगामों की चर्चा | किसानों की आत्महत्या का मामला है | जीएसटी से व्यापारियों की नाराजगी का मुद्दा है | अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमला | गौहत्या के मामलों में पकड़ पकड़ कर हत्या के मामले | मोदी को इस का पता है, वह दो बार चिंता जाहिर कर चुके | सन्डे की मीटिंग में फिर कहा-"गौहत्या के नाम पर हत्याएं करने वाले गौभक्त नहीं हैं |" इस के अलावा चीन के साथ सिक्किम सीमा पर तनाव | भले ही शनिवार को राजनाथ सिंह ने मीटिंग बुला कर चीन बार्डर के हालात बता दिए | पर विपक्ष संतुष्ट नहीं | वह संसद में मोदी का बयान मांगेगा

बोफोर्स घोटाला और नीतीश का आदर्शवाद 

Publsihed: 14.Jul.2017, 22:21

कांग्रेस के लिए भ्रष्टाचार कभी मुद्दा नहीं रहा | अलबत्ता भ्रष्टाचार पर पर्दा डालना कांग्रेस का मुद्दा रहा है | नीतीश बाबू उम्मींद कर रहे हैं कि लालू परिवार के भ्रष्टाचार पर कांग्रेस उन का साथ दे | क्या नीतीश कुमार को कांग्रेस से यह उम्मींद पालनी चाहिए | 2004 में कांग्रेस ने सत्ता में आते ही सब से पहले बोफोर्स घोटाले की फाईल बंद करवाई थी | क़ानून मंत्री हंस राज भारद्वाज ने डंके की चोट पर हाई कोर्ट से बंदोबस्त कर लिया था | फिर सुप्रीम कोर्ट जाने की इजाजत न सीबीआई ने माँगी | न मनमोहन सरकार को खुद-बी-खुद देनी थी | इस तरह बड़ा घोटाला दबा दिया गया | गुरुवार को संसद की लोक लेखा समिति में बोफोर्स का

सौदेबाजी के माहिर हैं सुशाषण बाबू नीतीश कुमार 

Publsihed: 12.Jul.2017, 23:22

महागठबंधन धीरे-धीरे दरक रहा है । सिद्धांतहीन गठबंधन कुछ दिन तो चल सकता है । पर लम्बा नही चल सकता । लालू यादव के साथ राजनीति करना इतना ही आसान होता । तो पहले ही जार्ज और नीतिश अलग क्यो होते । यूपीए राज तक चारा घोटाले में लालू यादव का कुछ नहीं बिगड़ा था । कांग्रेस 1999 से लगातार लालू को बचा रही थी | जब कांग्रेस ने सौदेबाजी कर राबडी को सीएम बनवाया था | जब यूपीए सरकार बनी, तो लालू को रेल मंत्री भी बनाया | यूंपीए -1 में सब मंत्री लूट रहे थे, तो लालू यादव ने भी बहती गंगा में हाथ धोए | हाल ही में लालू यादव ने दावा किया कि वह चाहते तो जितना चाहे कमा लेते | पर कमाया कुछ नहीं | सीबीआई  और ईडी आए

वामपंथी टोला चाहता है आतंकियों पर दमन न हो

Publsihed: 12.Jul.2017, 12:39

सोमवार रात अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में सात तीर्थ यात्री मारे गए | आतंकी कामयाब हो जाते तो बस पर सवार सभी 61 यात्री मारे जाते | बस के चालक शेख सलीम गफ्फूर ने आतंकियों की साजिश नाकाम कर दी | जैसे ही बस पर गोली चली गफ्फूर ने बस भगा दी | पाकिस्तान साम्प्रदायिक दंगे करवाने के विफल हो गया | अनंतनाग में 100-150  हिदू तीर्थ यात्रियों को मार कर मुसलमानों के खिलाफ दंगे फैलाने की साजिश थी | गोधरा ट्रेन के डिब्बे को जलाने जैसी साजिश थी | पाकिस्तानी आतंकियों ने इसी इरादे से अमरनाथ यात्रियों पर हमला किया था | गुजरात की बस को निशाना बनाया जाना भी शक पैदा करता है | बस का रास्ते में पंक्चर होना भी इ

राहुल की चीन के राजदूत से मुलाक़ात का बवाल  ajaysetia 10.Jul.2017, 22:34

यह सचमुच गंभीर मामला है | सिक्किम सीमा पर तनाव को राजनीतिक मुद्दा बनाया जा रहा है | न यह भाजपा के लिए ठीक है, न कांग्रेस और वामपंथियों के लिए | वामपंथियों का चीन प्रेम जगजाहिर है | पर कांग्रेस का 1962 में ही चीन से मोहभंग हो गया था | राजीव गांधी ने जरुर 1988 में चीन यात्रा की थी , जिस से संबंधों में जमी बर्फ पिघली थी | तब भी कांग्रेस ने चीन से प्यार की पींगें तो नहीं डाली थीं | पर कांग्रेस का मौजूदा नेतृत्व अब यह क्या कर रहा है | पहले राहुल गांधी ने चीन पर प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल उठाया | जो सीमा पर तनाव के चलते अनुचित था | वह कांग्रेस अध्यक्ष भी होते, तो भी यह सवाल उचित नहीं होता | व