Latest Trends

Daily estimates of seats for all parties in each and every state of India

हमारा ताजा आंकलन (13 मई 2009)

यूपीए = कांग्रेस 144, ममता 11, पवार 11, करुणानिधि 08, शिबू 03, फारुख 02, अन्य 02 = 181,
यूपीए के सहयोगी भी जोड़ें, तो = लालू 08, मुलायम 22, पासवान 02 = 213,
लेफ्ट के 38 भी साथ जोड़ लें, तो = 249

एनडीए = भाजपा 149, जदयू 18, शिवसेना 13, अकाली 04, अगप 04, अजित 05, चौटाला 01, मीणा 01 = 195

थर्ड फ्रंट = लेफ्ट केरल 08, आंध्र 02, बंगाल 24, त्रिपुरा 02, तमिलनाडु 02 = 38,
मायावती यूपी 27, चंद्रबाबू 17, चंद्रशेखर राव 04, भजन 01, देवगौड़ा 03, जयललिता 28, नवीन पटनायक 10, कुल = 128

यूपीए का पहला विकल्प
213 + 27 (माया) + 28 (जयललिता)= 268, तो इसमें मुलायम और करुणानिधि के 30 निकालने पड़ेंगे।
तब बाकी बचेगा यूपीए = 238

यूपीए का दूसरा विकल्प
238 में लेफ्ट के 36 जोड़ें तो = 276, तो इसमें से ममता के 11 निकालने पड़ेंगे।
तब बाकी बचेगा यूपीए = 265

यूपीए का एकमात्र विकल्प
लेफ्ट सहित सारा सेक्युलर कुनबा = 251 + चंद्रशेखर राव (04) + भजन (01) + देवगौड़ा (03) + मायावती (27) + जयललिता (28) + नवीन (10) =324,
तो इसमें ममता (11) + मुलायम (22) और करुणानिधि (08) निकालने पड़ेंगे। तब बाकी बचे = 283

थर्ड फ्रंट की संभावना
थर्ड फ्रंट 128 + लालू + पासवान (10) + पवार (11) + शिबू (03) + फारुख (02) = 154 + कांग्रेस (143) = 298

एनडीए की संभावना
195 + माया (27) + जयललिता (28) + बाबू, चंद्रशेखर (21) + नवीन (10) + भजन (01) = 282

राज्यवार सभी दलों की स्थिति

हमारा ताजा आंकलन (8 मई 2009)

यूपीए = कांग्रेस 144, ममता 11, पवार 11, करुणानिधि 08, शिबू 03, फारुख 02, अन्य 02 = 181,
यूपीए के सहयोगी भी जोड़ें, तो = लालू 08, मुलायम 22, पासवान 02 = 213,
लेफ्ट के 38 भी साथ जोड़ लें, तो = 249

एनडीए = भाजपा 149, जदयू 18, शिवसेना 13, अकाली 04, अगप 04, अजित 05, चौटाला 01, मीणा 01 = 195

थर्ड फ्रंट = लेफ्ट केरल 08, आंध्र 02, बंगाल 24, त्रिपुरा 02, तमिलनाडु 02 = 38,
मायावती यूपी 27, चंद्रबाबू 17, चंद्रशेखर राव 04, भजन 01, देवगौड़ा 03, जयललिता 28, नवीन पटनायक 10, कुल = 128

यूपीए का पहला विकल्प
213 + 27 (माया) + 28 (जयललिता)= 268, तो इसमें मुलायम और करुणानिधि के 30 निकालने पड़ेंगे।
तब बाकी बचेगा यूपीए = 238

यूपीए का दूसरा विकल्प
238 में लेफ्ट के 36 जोड़ें तो = 276, तो इसमें से ममता के 11 निकालने पड़ेंगे।
तब बाकी बचेगा यूपीए = 265

यूपीए का एकमात्र विकल्प
लेफ्ट सहित सारा सेक्युलर कुनबा = 251 + चंद्रशेखर राव (04) + भजन (01) +  देवगौड़ा (03) + मायावती (27) + जयललिता (28) + नवीन (10) =324,
तो इसमें ममता (11) + मुलायम (22) और करुणानिधि (08) निकालने पड़ेंगे। तब बाकी बचे = 283

थर्ड फ्रंट की संभावना
थर्ड फ्रंट 128 + लालू + पासवान (10) + पवार (11) + शिबू (03) + फारुख (02) = 154 + कांग्रेस (143) = 298

एनडीए की संभावना
195 + माया (27) + जयललिता (28) + बाबू, चंद्रशेखर (21) + नवीन (10) + भजन (01) = 282

राज्यवार सभी दलों की स्थिति

हमारा ताजा आंकलन (5 मई 2009)

यूपीए = कांग्रेस 143, ममता 11, पवार 11, करुणानिधि 08, शिबू 03, फारुख 02, अन्य 01 = 179,
यूपीए के सहयोगी भी जोड़ें, तो = लालू 10, मुलायम 22, पासवान 02 = 213,
लेफ्ट भी साथ जोड़ लें, तो = 249

एनडीए = भाजपा 151, जदयू 16, शिवसेना 13, अकाली 04, अगप 04, अजित 03, चौटाला 01 = 192

थर्ड फ्रंट = लेफ्ट केरल 08, आंध्र 02, बंगाल 24, त्रिपुरा 02 = 36,
मायावती यूपी 32, चंद्रबाबू 17, चंद्रशेखर राव 04, भजन 01, देवगौड़ा 03, जयललिता 28, नवीन पटनायक 10, कुल = 131

यूपीए का पहला विकल्प
213 + 32(माया) + 28(जयललिता)= 273, तो इसमें मुलायम और करुणानिधि के 30 निकालने पड़ेंगे।
तब बाकी बचेगा यूपीए = 243

यूपीए का दूसरा विकल्प
243 में लेफ्ट के 36 जोड़ें तो = 279, तो इसमें से ममता के 11 निकालने पड़ेंगे।
तब बाकी बचेगा यूपीए = 268

यूपीए का एकमात्र विकल्प
लेफ्ट सहित सारा सेक्युलर कुनबा = 249 + चंद्रशेखर+ भजन + देवगौड़ा + मायावती + जयललिता + नवीन =327,
तो इसमें ममता+ मुलायम और करुणानिधि निकालने पड़ेंगे। तब बाकी बचे = 289

थर्ड फ्रंट की संभावना
थर्ड फ्रंट 131 + लालू + पासवान = 143 + पवार 11 + शिबू 03, फारुख 02 = 159 + कांग्रेस 143 = 302

एनडीए की संभावना
192 + 32 (माया) + 28 (जयललिता) + 21 (बाबू, चंद्रशेखर) + 10 (नवीन) + 01 (भजन) = 284

राज्यवार सभी दलों की स्थिति

हमारा ताजा आंकलन (28 अप्रेल 2009)

कांग्रेस, एनसीपी, तृणमूल, झामुमो, द्रमुक+लालू, मुलायम, पासवान = 211
भाजपा, एजीपी, शिवसेना, इनलोद, लोद = 193
लेफ्ट, बाबू, चंद्रशेखर, भजन, देवगौड़ा, बीजू, जयललिता, माया = 139

बिना मनमोहन यूपीए की संभावना
211 + 34 (लेफ्ट) + 33 (माया) + 31 (जयललिता) = 309
आडवाणी की संभावना
193 + 33 (माया) + 31 (जयललिता) + 25 (बाबू, चंद्रशेखर) = 285

राज्यवार सभी दलों की स्थिति

Syndicate content

India Gate se Sanjay Uvach

Wed, 14 Dec 2011

जनसत्ता 14 दिसंबर, 2011:  पिछले दिनों दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब में एक अत्यंत गंभीर विषय पर चर्चा हुई। विषय था, देश में बच्चों के अपहरण की बढ़ रही घटनाएं। विषय की गंभीरता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि बच्चों के अपहरण पर शोध आधारित पुस्तक का विमोचन करने के लिए सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश अल्तमस कबीर खुद मौजूद थे। इस गंभीर समस्या का सनसनीखेज खुलासा 1996 में हुआ था, जब यूनिसेफ ने भारत में बच्चों के देह-शोषण पर एक रिपोर्ट जारी की थी। बी भामती की इस रिपोर्ट