India Gate Se

Exclusive Articles written by Ajay Setia

सुप्रीमकोर्ट के जजों ने मीडिया जंग शुरू की 

Publsihed: 12.Jan.2018, 21:52

अजय सेतिया / शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जजों ने मीडिया के सामने खुली जंग शुरू कर दी | इस से पहले जजों की गुटबाजी ढकी हुई थी | ऐसा नहीं था कि जजों की आपस में खटास नहीं थी | ऐसा नहीं कि जज राजनीतिक नेताओं के साथ सांठ-गाँठ नहीं करते थे | ऐसा नहीं कि जजों से राजनीतिक दलों की मिलीभगत नहीं होती थी | पर शुक्रवार को सब खुल्लम खुला हो गया |  देश के इतिहास में पहली बार चार जज मीडिया के सामने आए | चारों चीफ जस्टिस के बाद सीनियर हैं | चारों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्र के खिलाफ मोर्चा खोल दिया | यह कुछ ऐसे हुआ, जैसे किसी राजनीतिक दल में बगावत हो गई हो | अपने अध्यक्ष के खि

राज्यसभा में बड़ी पार्टी हुई भाजपा क्या तीन मुद्दों पर लौटेगी 

Publsihed: 10.Jan.2018, 20:43

अजय सेतिया / 15 मई 1952 को राज्यसभा की जब पहली बैठक शुरू हुई थी तो इस का नाम द्वितीय चेम्बर था | 23 अगस्त 1954 को इसे राज्यसभा का नाम दिया गया था | 9 जनवरी 2018 भारत की लोकतांत्रिक राजनीति में अहम दिन है | जब राज्यसभा के इतिहास में कांग्रेस पहली बार सब से बड़ी पार्टी नहीं रही | 66 साल तक कांग्रेस राज्यसभा में सब से बडी पार्टी रही | 9 जनवरी को हरदीप सिंह पुरी राज्यसभा के लिए चुने गए | वह जैसे यूपी विधानसभा से चुने गए भाजपा सब से बड़ी पार्टी हो गई | लोकसभा में वह पहले ही सब से बड़ी पार्टी थी | राज्यसभा में भाजपा को सब से बड़ी पार्टी बनाने का श्रेय हरदीप सिंह पुरी को मिला है | अब

राहुल फिर भारत तोड़ों गैंग के चंगुल में 

Publsihed: 05.Jan.2018, 21:24

अजय सेतिया / नक्सलियों,वामपंथियों ने दलितों और मुसलमानों को उकसाना शुरू कर दिया है | देश 1947 जैसे तनाव के मुहाने पर खड़ा है | सॉफ्ट हिदुत्व के सही रास्ते पर लौटी कांग्रेस फिर भटकती हुई दिखाई दे रही है | लोकसभा में तीन तलाक का समर्थन करने वाली कांग्रेस राज्यसभा में पलट गई | बुधवार को जब लोकसभा में कांग्रेस ने समर्थन किया था | वीरप्पा मोईली ने मीडिया को बताया था-" हमने लोकसभा में इस लिए विरोध नहीं किया ताकि हमें मुस्लिम महिलाओं के विरोध में न समझा  जाएं |" पर कांग्रेस ने लोकसभा की सारी कमाई राज्यसभा में गँवा दी | राहुल गांधी ठीक उसी तरह मुस्लिम कट्टरपंथीयों के दबाव में आ

तीन तलाक पर हो सकता है ज्वाईंट सेशन 

Publsihed: 04.Jan.2018, 20:27

अजय सेतिया / संसद के शीत सत्र का आज सत्रावसान हो जाएगा | सत्रावसान से एक दिन पहले गुरूवार को सरकार ने तीन तलाक पर गुगली मारी | लोकसभा में बिल आसानी से पास हो गया था | जिस में इंस्टैंट ट्रिपल तलाक को गैरकानूनी घोषित किया गया है | बिल में इंस्टैंट तीन तलाक देने वाले को तीन साल तक की कैद की सज़ा का प्रावधान है | तब कांग्रेस ने न तो अपने संशोधनों पर वोटिंग माँगी | न बिल का विरोध किया | लोकसभा में स्टेंडिंग कमेटी में बिल जाता | तो भूपेन्द्र यादव की रहनुमाई वाली कमेटी में बिल जाता | पर राज्यसभा में नई सलेक्ट कमेटी बनती है | पर जैसी उम्मींद थी कांग्रेस ने राज्यसभा में गुगली मार दी

क्या भाजपा सांसदों का मोहभंग हो गया मोदी से 

Publsihed: 04.Jan.2018, 12:13

क्या भारतीय जनता पार्टी में निराशा की स्थिति पैदा हो गई है | क्या पार्टी में नरेंद्र मोदी का इकबाल खत्म हो गया है | बुधवार को ऐसी दो घटनाएं हुई हैं , जो इस ओर इशारा करती हैं | हर सप्ताह की तरह बुधवार को भाजपा संसदीय पार्टी की बैठक थी | बैठक सुबह साढे नौ बजे बुलाई गई थी | अक्सर बैठक डेढ़ घंटा चलती है , इस लिए 11 बजे संसद की बैठक शुरू होने से डेढ़ घंटा पहले ही बुलाई जाती है | इस बुधवार की बैठक संसद के शीत सत्र की आख़िरी बैठक थी | जिस में भाजपा संसदीय दल के नेता नरेंद्र मोदी का महत्वपूर्ण भाषण होना था | भाजपा आलाकमान उम्मींद कर रहा होगा कि हाजिरी सौ फीसदी होगी | भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी अब राज्य

अंग्रेजों की तरह कौन लड़वा रहा है सवर्णों और दलितों को 

Publsihed: 02.Jan.2018, 21:05

अजय सेतिया / दो सौ साल पहले पुणे जिले में भीमा-कोरेगांव में पेशवाओं और अंग्रेजों की लड़ाई हुई थी | यह लड़ाई 1818 में हुई थी , जिस का स्मारक भी बना हुआ है | पेशवाओं के राज में दलितों को अछूत माना जाता था | इसलिए ईस्ट इंडिया कम्पनी ने दलितों के कंधे पर बन्दूक रख कर पेशवाओं के खिलाफ जंग लड़ी | अंग्रेजों ने स्थानीय महार समुदाय के लोगों को अपनी सेना में भर्ती किया | पेशवाओं की ओर से ठीक व्यवहार नहीं होने के कारण महार समुदाय के दलितों ने अंग्रेजों का साथ दिया | दलितों की ओर से अंग्रेजों का साथ दिए जाने के कारण पेशवा हार गए | अंग्रेज जीत गए, जिस कारण अंग्रेजों का पुणे पर कब्जा हो गया

सर्जिकल स्ट्राईकों से नहीं सुधरने वाला पाकिस्तान  

Publsihed: 01.Jan.2018, 21:49

अजय सेतिया / पाकिस्तान के खिलाफ अब बड़े आपरेशन की जरूरत है | मोदी सरकार की सफलता यह है कि पाकिस्तान को अन्तर्राष्ट्रीय समुदाय में अलग थलग किया है | अब सिर्फ चीन ही उस का साथी है, वह भी इकनामिक स्वार्थ के कारण | अमेरिका अब पूरी तरह पाकिस्तान को कटघरे में खड़ा करने के मूड में दिखता है | ट्रम्प ने ओबामा की ढिलमुल नीति छोड़ कर पाक पर निशाना साधा हुआ है | सोमवार को नए साल के पहले दिन ट्रम्प ने खुद एक ट्विट में कहा-" बीते 15 सालों में पाक को 33 अरब डॉलर की मदद अमेरिका की बेवकूफी थी | पाकिस्तान ने बदले में झूठ और धोखा ही दिया | पाकिस्तान हमारे नेताओं को मूर्ख समझता है | जिन आतंकियों

हिंदुत्व में लौटी कांग्रेस ने भी पास करवाया तीन तलाक बिल

Publsihed: 28.Dec.2017, 21:13

 अजय सेतिया / मोदी सरकार ने तीन तलाक के खिलाफ बिल ला कर कांग्रेस को फंसा दिया | गुजरात से हिन्दू हो कर लौटी कांग्रेस कनफूजन में फंस गई | एक तरफ मुस्लिम पुरुषों का दबाव था | जिन के साथ कांग्रेस का राजीव गांधी से समय से गहरा रिश्ता था | जो राजीव गांधी ने सुप्रीमकोर्ट की और से मुस्लिम महिलाओं को दिए गुजारे भत्ते को क़ानून बना कर नकारा था | अब जब तीन तलाक का मामला सुप्रीमकोर्ट में गया | तो मोदी सरकार ने कोर्ट में तीन तलाक के खिलाफ राय स्पष्ट कर दी | सरकारी राय के बाद सुप्रीम कोर्ट ने गत 22 अगस्त को तलाक-ए-बिद्दत को असंवैधानिक करार दे दिया था | इतना ही नहीं सुप्रीमकोर्ट ने स

न तुम जीते, न हम हारे , हारी देश की जनता

Publsihed: 27.Dec.2017, 22:37

अजय सेतिया / कांग्रेस को बहुत  एतराज था कि मोदी ने संसद का शीत सत्र वक्त पर नहीं बुलाया | एतराज था कि गुजरात के चुनाव के कारण संसद की अनदेखी हुई | एतराज अपना भी था | अपना एतराज बुनियादी था | अपना एतराज यह था कि 2011 से संसद की अनदेखी हो रही है | पिछले सात साल से संसद का सत्र साल में तकरीबन 70 दिन चला है | जबकि 100 दिन सत्र चलाने की आम सहमती बनी हुई है | अपन ने तो यहाँ तक लिखा था कि संसद के दरवाजे पर घुटनों के बल बैठने से संसद का सम्मान नहीं होता | अलबत्ता संसद का सामना करने से संसद का सम्मान होता है | पर कांग्रेस ने पिछले दस दिन में जो कुछ किया वह क्या था | क्या वह संस

शुद्र मानसिकता का परिचय दिया पाकिस्तान ने 

Publsihed: 26.Dec.2017, 20:48

अजय सेतिया / अपन ने कल कुलभूषण जाधव के साथ उस की  मां और पत्नी  से मुलाक़ात पर लिखा था | जो कल ही इस्लामाबाद में हुई थी | उस में अपन ने तीन महत्वपूर्ण बातें कही थी | पहली - मुलाक़ात में शीशे की दीवार खडी की गई | दूसरी - मां-बेटे को मातृभाषा मराठी में बात नहीं करने दी गई | तीसरी - आईसीजे में इस्तेमाल करने के लिए अंगरेजी में करवाई गई बातचीत की वीडियोग्राफी की गई | सोमवार देर रात ही कुलभूषण की मां अवंती और पत्नी चेतानकुल दिल्ली लौट आए | तो कुछ और खुलासे हुए हैं | जो पाकिस्तान की शुद्र मानसिकता का खुलासा करते हैं | जाधव की पत्नी का मंगलसूत्र, बिंदी और चूड़ियां तक उतरवाई