India Gate Se

Published: 23.Jan.2018, 17:55

अपन फ़िल्म पद्मावत के उग्र विरोध के खिलाफ नहीं हैं | पद्मावती को पद्मावत कर के प्रसून जोशी खुद को धोखा दे सकते हैं | देश की हिन्दू जनता को नहीं | जिन के घर की हजारों औरतों ने विदेशी मुस्लिम हमलावरों के हाथों अपनी इज्जत बचाने के लिए जौहर किया | फिल्म में सभी किरदारों के नाम वही हैं | जो इतिहास में लिखे हैं | खिलजी भी है, पद्मावती भी है | फिल्म सेंसर बोर्ड और सुप्रीमकोर्ट हिन्दुओं को अपमानित करने की कोशिश कर रहे हैं | लगता है अंग्रेजों के हाथ से निकल कर भारत फिर मुगलों के चंगुल में फंस गया है | अंग्रेजों ने भारत का बंटवारा किया तो उसे कांग्रेस के नेताओं ने माना था | मुसलमानों को पाकिस्तान नाम से देश दे दिया गया | पर कांग्रेस ने हिन्दुओं का देश नहीं बनने दिया | उस पर हिन्दुओं को एतराज भी नहीं था | हिन्दुओं को आज भी एतराज नहीं | हिन्दू तो सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया,सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चिद् दुख भागभवेत " में विशवास रखते हैं | सो हिन्दू अपने संस्कारों से ही सेक्यूलर हैं | पर भारत के टुकड़े कर के दो मुस्लिम देश बना लेने के बावजूद मुस्लिम भारत में अपना…

और पढ़ें →
Published: 16.Jan.2018, 22:17

अजय सेतिया / तीन तलाक के बाद मोदी सरकार ने हज यात्रा पर दी जाने वाली सब्सिडी भी खत्म कर दी | कांग्रेस ने लोकसभा में समर्थन कर के राज्यसभा में तीन तलाक बिल का विरोध किया है | पर हज सब्सिडी खत्म करने का कांग्रेस ने बड़ी तकलीफ के साथ समर्थन किया है | तकलीफ यह है कि तय सीमा से चार साल पहले ही सब्सिडी खत्म कर दी | सुप्रीमकोर्ट ने 2022 तक की मोहलत दी थी | बाबरी ढांचा टूटने के बाद नरसिंह राव ने मुसलमानों को सब्सिडी का लालीपाप दिया था | हिन्दू संगठन इस का विरोध करते रहे हैं | संघ परिवार हज की सब्सिडी को मुसलमानों का तुष्टिकरन बताता रहा है | भाज्का कांग्रेस के खिलाफ यह बड़ा हथियार रहा है | पर अटल बिहारी वाजपेयी ने सब्सिडी खत्म नहीं की थी | सब्सिडी से पहले ज्यादातर मुसलमान समुद्री जहाज पर हज करने जाते थे | जिस में बहुत समय लगता था | समुद्री जहाज बहुत धीरे चलते थे | सरकार भी समुद्री जहाजों को खत्म करना चाहती थी | इन समुद्री जहाज़ों का इस्तेमाल हज के समय ही होता था | जबकि सरकार को सारा साल जहाजों का खर्चा उठाना पड़ता था | इस लिए सरकार ने समुद्री जहाज के खर्चे पर हवाई जहाज से हज करवाने की पेशकश क…

और पढ़ें →
Published: 16.Jan.2018, 08:00

अजय सेतिया / ऐसा लगता है वकीलों ने जजों का झगड़ा निपटा दिया है | बार काउन्सिल आफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा ने सोमवार को कहा मामला सुलटा लिया गया है | उन ने सुप्रीमकोर्ट के कम से कम 15 जजों से मुलाक़ात की है | चारों जजों में से दो को तो एहसास हो गया था कि जस्टिस चलामेश्वर ने उन्हें गुमराह किया | चार जजों की प्रेस कांफ्रेंस ने भारत की प्रतिष्ठा को नुक्सान पहुंचाया है | अपना तो मत रहा है कि चारों जजों को लम्बी छुट्टी पर भेजना चाहिए | राष्ट्रपति को पहल कर के चारों को तलब करना चाहिए | उन्हें चीफ जस्टिस बनने से भी वाचित किया जाना चाहिए | जांच होनी चाहिए कि प्रेस कांफ्रेंस से पहले जस्टिस चेलामेशवर की किसी नेता से बात हुई थी क्या | या किसी एनजीओ वाले से बात हुई थी क्या | अपनी नजर में एक ही महत्वपूर्ण बात सामने आई हैं | वह है जस्टिस चेलामेशवर की चीफ जस्टिस बनने की इच्छा | पर वह बन नहीं सकते क्योंकि वह चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा से पहले ही रिटायर हो जाएंगे | यह तभी हो सकता है जब किसी तरफ जस्टिस मिश्रा रास्ते से हटें | अपनी आशंका यह है कि जस्टिस चेलामेशवर की इसी कमजोरी का मोदी विरोधियों…

और पढ़ें →
Published: 12.Jan.2018, 21:52

अजय सेतिया / शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जजों ने मीडिया के सामने खुली जंग शुरू कर दी | इस से पहले जजों की गुटबाजी ढकी हुई थी | ऐसा नहीं था कि जजों की आपस में खटास नहीं थी | ऐसा नहीं कि जज राजनीतिक नेताओं के साथ सांठ-गाँठ नहीं करते थे | ऐसा नहीं कि जजों से राजनीतिक दलों की मिलीभगत नहीं होती थी | पर शुक्रवार को सब खुल्लम खुला हो गया |  देश के इतिहास में पहली बार चार जज मीडिया के सामने आए | चारों चीफ जस्टिस के बाद सीनियर हैं | चारों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्र के खिलाफ मोर्चा खोल दिया | यह कुछ ऐसे हुआ, जैसे किसी राजनीतिक दल में बगावत हो गई हो | अपने अध्यक्ष के खिलाफ बगावत कर के चार बड़े नेताओं ने नया दल बना लिया हो | और मीडिया के माध्यम से राष्ट्रपति के सामने नई गठबंधन सरकार बनाने का दावा पेश कर रहे हों | जी हाँ , यह बगावत चीफ जस्टिस दीपक मिश्र को हटवा कर चीफ जस्टिस बनने की है | दुसरे नंबर के जज जस्टिस जे. चेलामेश्‍वर किसी भी हालत में चीफ जस्टिस बनना चाहते हैं | इस के लिए कुछ दिन पहले वह पूजा पाठ करने गुवहाटी के कामेश्वर मंदिर भी गए थे | चर्चा तो यहाँ तक है कि उन ने वहा…

और पढ़ें →
Published: 10.Jan.2018, 20:43

अजय सेतिया / 15 मई 1952 को राज्यसभा की जब पहली बैठक शुरू हुई थी तो इस का नाम द्वितीय चेम्बर था | 23 अगस्त 1954 को इसे राज्यसभा का नाम दिया गया था | 9 जनवरी 2018 भारत की लोकतांत्रिक राजनीति में अहम दिन है | जब राज्यसभा के इतिहास में कांग्रेस पहली बार सब से बड़ी पार्टी नहीं रही | 66 साल तक कांग्रेस राज्यसभा में सब से बडी पार्टी रही | 9 जनवरी को हरदीप सिंह पुरी राज्यसभा के लिए चुने गए | वह जैसे यूपी विधानसभा से चुने गए भाजपा सब से बड़ी पार्टी हो गई | लोकसभा में वह पहले ही सब से बड़ी पार्टी थी | राज्यसभा में भाजपा को सब से बड़ी पार्टी बनाने का श्रेय हरदीप सिंह पुरी को मिला है | अब भाजपा के राज्यसभा में 58 सदस्य हो गए हैं, जबकि कांग्रेस के 57 हैं | हरदीप सिंह पुरी सिर्फ 2 साल 10 महीने के लिए मनोहर परिकर की सीट पर चुने गए हैं | अप्रेल में स्थिति और बदल जाएगी | भाजपा 67 और कांग्रेस 53 पर आ जाएगी | भाजपा की अब 19 राज्यों में सरकार आ गई है | तो आने वाले चार -पांच साल कांग्रेस के सदस्य घटते जाएंगे और भाजपा के सदस्य बढ़ते जाएंगे | अप्रेल में 55 सदस्य रिटायर हो रहे हैं | जिनमें भाजपा के 17, कांग्…

और पढ़ें →
Published: 05.Jan.2018, 21:24

अजय सेतिया / नक्सलियों,वामपंथियों ने दलितों और मुसलमानों को उकसाना शुरू कर दिया है | देश 1947 जैसे तनाव के मुहाने पर खड़ा है | सॉफ्ट हिदुत्व के सही रास्ते पर लौटी कांग्रेस फिर भटकती हुई दिखाई दे रही है | लोकसभा में तीन तलाक का समर्थन करने वाली कांग्रेस राज्यसभा में पलट गई | बुधवार को जब लोकसभा में कांग्रेस ने समर्थन किया था | वीरप्पा मोईली ने मीडिया को बताया था-" हमने लोकसभा में इस लिए विरोध नहीं किया ताकि हमें मुस्लिम महिलाओं के विरोध में न समझा  जाएं |" पर कांग्रेस ने लोकसभा की सारी कमाई राज्यसभा में गँवा दी | राहुल गांधी ठीक उसी तरह मुस्लिम कट्टरपंथीयों के दबाव में आ गए | जैसे उन के पिता राजीव गांधी शाहबानों मामले में दबाव में आए थे | कांग्रेस की हठधर्मिता से राज्यसभा में तीन तलाक बिल पास नहीं हुआ | भाजपा की रणनीति बिल को कांग्रेस और समूचे विपक्ष के हाथों पिटवाने की थी | ताकि मुस्लिम महिलाओं में कांग्रेस को बदनाम किया जा सके | फिर कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले ज्वाईंट सैशन में बिल पास करवाने की रणनीति थी | पर आनन्द शर्मा ने सलेक्ट कमेटी का प्रस्ताव पेश कर गुगली चल दी | जि…

और पढ़ें →
Published: 04.Jan.2018, 20:27

अजय सेतिया / संसद के शीत सत्र का आज सत्रावसान हो जाएगा | सत्रावसान से एक दिन पहले गुरूवार को सरकार ने तीन तलाक पर गुगली मारी | लोकसभा में बिल आसानी से पास हो गया था | जिस में इंस्टैंट ट्रिपल तलाक को गैरकानूनी घोषित किया गया है | बिल में इंस्टैंट तीन तलाक देने वाले को तीन साल तक की कैद की सज़ा का प्रावधान है | तब कांग्रेस ने न तो अपने संशोधनों पर वोटिंग माँगी | न बिल का विरोध किया | लोकसभा में स्टेंडिंग कमेटी में बिल जाता | तो भूपेन्द्र यादव की रहनुमाई वाली कमेटी में बिल जाता | पर राज्यसभा में नई सलेक्ट कमेटी बनती है | पर जैसी उम्मींद थी कांग्रेस ने राज्यसभा में गुगली मार दी | कांग्रेस की बड़ी मांग यह है कि तीन तलाक को क्रिमनल न बनाया जाए | इसे सिविल अपराध रखा जाए | पर सरकार की दलील है कि सुप्रीमकोर्ट के फैसले के बावजूद तीन तलाक हो रहे हैं | रविशंकर प्रशाद ने यह बात संसद में रखी | उन का तर्क है कि सजा का डर नहीं होगा तो तीन तलाक जारी रहेगा | सरकार के पास तीन इंस्टैंट तलाकों के 73 उदाहरण मौजूद हैं | कांग्रेस चाहती है बिल में सजा की बजाए जुर्माना भले ही रख दिया जाए | जबकि मुस्लिम नेत…

और पढ़ें →
Published: 04.Jan.2018, 12:13

क्या भारतीय जनता पार्टी में निराशा की स्थिति पैदा हो गई है | क्या पार्टी में नरेंद्र मोदी का इकबाल खत्म हो गया है | बुधवार को ऐसी दो घटनाएं हुई हैं , जो इस ओर इशारा करती हैं | हर सप्ताह की तरह बुधवार को भाजपा संसदीय पार्टी की बैठक थी | बैठक सुबह साढे नौ बजे बुलाई गई थी | अक्सर बैठक डेढ़ घंटा चलती है , इस लिए 11 बजे संसद की बैठक शुरू होने से डेढ़ घंटा पहले ही बुलाई जाती है | इस बुधवार की बैठक संसद के शीत सत्र की आख़िरी बैठक थी | जिस में भाजपा संसदीय दल के नेता नरेंद्र मोदी का महत्वपूर्ण भाषण होना था | भाजपा आलाकमान उम्मींद कर रहा होगा कि हाजिरी सौ फीसदी होगी | भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी अब राज्य सभा के सदस्य हैं | इस लिए उन का भाषण भी होना था | भाजपा ने संसद सत्र के आख़िरी तीन चार दिनों के लिए व्हिप भी जारी किया हुआ था | जिस का असर भाजपा की संसदीय दल की बैठक पर भी दिखना चाहिए था | पर नरेंद्र मोदी और अमित शाह बैठक में सांसदों की हाजिरी देख कर हैरान हुए होंगे | अपन को छटी बार के एक सांसद ने बताया कि 50 से 60 फीसदी के बीच हाजिरी थी | जिस सांसद ने अपन को यह विस्फोटक जानकारी दी , वह खुद इस…

और पढ़ें →
Published: 02.Jan.2018, 21:05

अजय सेतिया / दो सौ साल पहले पुणे जिले में भीमा-कोरेगांव में पेशवाओं और अंग्रेजों की लड़ाई हुई थी | यह लड़ाई 1818 में हुई थी , जिस का स्मारक भी बना हुआ है | पेशवाओं के राज में दलितों को अछूत माना जाता था | इसलिए ईस्ट इंडिया कम्पनी ने दलितों के कंधे पर बन्दूक रख कर पेशवाओं के खिलाफ जंग लड़ी | अंग्रेजों ने स्थानीय महार समुदाय के लोगों को अपनी सेना में भर्ती किया | पेशवाओं की ओर से ठीक व्यवहार नहीं होने के कारण महार समुदाय के दलितों ने अंग्रेजों का साथ दिया | दलितों की ओर से अंग्रेजों का साथ दिए जाने के कारण पेशवा हार गए | अंग्रेज जीत गए, जिस कारण अंग्रेजों का पुणे पर कब्जा हो गया | दलित पेशवाओं की हार को अपनी जीत मानते हैं | सो हर साल जीत का जश्न मनाने के लिए भीमा - कौरेगांव में जश्न मनाते हैं | जीत का जश्न मनाने के लिए स्मारक बनाया गया था | रोहित वैमूला का कार्ड फेल हो जाने के बाद इस बार नक्सलियों ने भीमा - कौरेगांव को चुना था | भीमा-कौरेगांव से भाजपा के खिलाफ दलितों और अल्पसंख्यकों को एकजुट करने की रणनीति बनाई थी | जेएनयू की भारत तोड़ो ब्रिगेड के उमर खालिद को इस रणनीति में जोड़ा गया |…

और पढ़ें →
Published: 01.Jan.2018, 21:49

अजय सेतिया / पाकिस्तान के खिलाफ अब बड़े आपरेशन की जरूरत है | मोदी सरकार की सफलता यह है कि पाकिस्तान को अन्तर्राष्ट्रीय समुदाय में अलग थलग किया है | अब सिर्फ चीन ही उस का साथी है, वह भी इकनामिक स्वार्थ के कारण | अमेरिका अब पूरी तरह पाकिस्तान को कटघरे में खड़ा करने के मूड में दिखता है | ट्रम्प ने ओबामा की ढिलमुल नीति छोड़ कर पाक पर निशाना साधा हुआ है | सोमवार को नए साल के पहले दिन ट्रम्प ने खुद एक ट्विट में कहा-" बीते 15 सालों में पाक को 33 अरब डॉलर की मदद अमेरिका की बेवकूफी थी | पाकिस्तान ने बदले में झूठ और धोखा ही दिया | पाकिस्तान हमारे नेताओं को मूर्ख समझता है | जिन आतंकियों को हम अफगानिस्तान में ढूंढते हैं , उन्हें पाकिस्तान पनाह देता है | अब और नहीं | " यानी पाकिस्तान को अमेरिकी मदद बंद हो रही है | भारत के लिए यह स्वर्णिम मौक़ा है | भारत को संसद के शीत सत्र में ही पाक को आतंकी देश घोषित करना चाहिए | ताकि अमेरिका के लिए आर्थिक पाबंदियों का रास्ता खुले | एक तरफ आर्थिक नाकेबंदी हो, तो दूसरी तरफ भारत बड़ा आपरेशन शुरू करे | छोटे मोटे सर्जिकल स्ट्राईकों का पाक की सेहत पर कोई असर  नह…

और पढ़ें →