आदित्यनाथ बिना एसी वाले कमरे में तख्त पर सोएंगे

Publsihed: 23.Mar.2017, 18:16

लखनऊ | मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद भी योगी आदित्यनाथ की दिनचर्या और रहन-सहन में वही चीजें शामिल रहेंगी, जो पहले थीं। योगी आदित्यनाथ बिना एसी वाले कमरे में तख्त पर सोएंगे। दरअसल, तख्त को सोने के लिए कठोर माना जाता है। इसके लिए पांच कालीदास मार्ग पर तैयारियां भी चल रही हैं।

मंत्रालय में आज़म खा की फोटो देख भड़का मंत्री

Publsihed: 23.Mar.2017, 17:49

योगी सरकार के एक मात्र मुस्लिम चेहरे अल्पसंख्यक मंत्री मोहसिन रजा गुरुवार को अपने दफ्तर अचानक निरीक्षण करने पहुंचे, तो वहां चेंबर के बाहर लगी आजम खान की तस्वीर देख कर भड़क गये | मोहसिन रजा ने हज कमेटी के अफसरों को कड़ी फटकार लगाई | जब कि निजाम बदलने के बाद प्रशासन को खुद ही तस्वीर तुरंत हटा देनी चाहिए थी | 

मोहसिन रजा ने सबसे पहले लोगों को मिलने वाली सुविधाओं का जायजा लिया, वहीं कबाड़ में सड़ रही एक नई कार को लेकर फटकार लगाई है. मंत्री ने पीने के पानी को लेकर भी अधिकारियों को फटकार लगाई |

योगी का सुशासन ,60 दिन में फाईल न निपटी तो कार्रवाई

Publsihed: 22.Mar.2017, 20:33

लखनऊ: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों के बीच विभागों के बंटवारे के बाद फरमान जारी किया कि हर फाइल का निपटारा 60 दिन के अंदर किया जाए नहीं तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी |

योगी ने अपने निर्देशों में सरकारी कर्मचारियों के कामकाज पर भी सख्‍त रुख दिखाया है | उन्‍होंने निर्देश दिए हैं कि सरकारी दफ्तर में सभी लोग टाइम से आएं. इसके साथ ही जल्‍द सरकारी कार्यालयों में सीसीटीवी कैमरें और बायोमेट्रिक सिस्‍टम लगाया जाए | सीएम ने यह भी निर्देश दिए कि सुरक्षा पाने वाले हर शख्‍स की सुरक्षा की समीक्षा की जाए |

योगी ने संभाली कमान ,दफ्तर पहुंचे , विभाग बांटे,

Publsihed: 22.Mar.2017, 20:16

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार शाम को यूपी के मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कर दिया। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को लोक निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण, मनोरंजन कर, सार्वजनिक उद्यम विभाग का कार्यभार दिया गया है। जबकि लखनऊ के पूर्व मेयर दिनेश शर्मा को उच्च शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।जबकि योगी आदित्यनाथ ने गृह और वित्त विभाग अपने पास रखे।

अवैध बुचडखानों पर चला योगी सरकार का डंडा

Publsihed: 21.Mar.2017, 21:20

नई दिल्‍ली। उत्तर प्रदेश में आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री पद का कार्यभार संभालने के बाद बूचड़खानों पर कार्रवाई तेज हो गई है। मंगलवार को गाजियाबाद में अवैध रूप से चल रहे 15 बूचड़खानें बंद कराए गए हैं। यह बूचड़खाने गाजियाबाद के केला भट्टा इलाके में चल रहे थे।

बिना भेदभाव होगा सब का विकास :आदित्य नाथ योगी

Publsihed: 21.Mar.2017, 21:11

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यानाथ योगी ने मुख्यमंत्री बनने के बाद लोकसभा में वित्त विधेयक पर चल रही चर्चा में अपनी राय रखी। इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार की पिछले ढाई साल की उपलब्धियों की प्रशंसा की।  उन्होंने यहां प्रधानमंत्री मोदी का खूब गुणगान किया। 

यूपी के सीएम बने योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नोटबंदी के बाद दुनिया यह देखना चाहती थी कि इस फैसले के बाद दुनिया किस दिशा में जा रही है। हमारी विकास की ग्रोथ ने उन लोगों को बताया कि यह फैसला सही था। 

भावुक कर गई योगी के परिवार की साधगी

Publsihed: 20.Mar.2017, 08:25

-विनोद मुसान / हर कोई चाहता है कि समाज में साधु-संत धर्म का विस्तार करें। लेकिन सन्सासी उनके घर में पैदा हो, ऐसी चाहत किसी की नहीं होती। 
योगी आदित्य नाथ के पिता श्री आनंद सिंह बिष्ट से रिपोटर ने जब ये प्रश्न पूछा तो उनका भावुक होना स्वाभाविक था। रुआंसे गले से बोले, ये बात सच है। जब बेटा संन्यास लेने की बात कहे तो कोई भी माता-पिता इस बात को स्वीकार नहीं करेंगे। 
लेकिन उनका बेटा संन्यासी जीवन जीते हुए जिस पथ पर चला, उन्हें आज उस पर गर्व है। 

“सौ लंगड़े मिलकर पहलवान नहीं बन सकते हैं”

Publsihed: 17.Mar.2017, 18:57

नई दिल्ली। 2019 के लोकसभा चुनाव में महागठबंधन बनाने की बातों के सामने आने के बाद केंद्रीय मंत्री रामबिलास पासवान ने तंज कसा है। पासवान ने कहा कि एक पुरानी कहावत है कि सौ लंगड़े मिलकर भी एक पहलवान नहीं बन सकते हैं।

दरअसल यूपी और उत्तराखंड में बीजेपी की भारी जीत के बाद अब मोदी लहर को रोकने के लिए महागठबंधन बनाने के बात कही जा रही है। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा कि बीजेपी को हरा पाना कांग्रेस के अकेले की बात नहीं है इसलिए सभी पार्टियों को एकसाथ आना चाहिए।

इस्लाम कहता है औरतें घर की चार दीवारी में रहें

Publsihed: 17.Mar.2017, 13:18

लन्दन में आयोजित एक फिल्म फेस्टिवल के दौरान को ‘गर्ल अनबाउंड’ नाम की फिल्म को सिनेमा पर्दे पर उतारा गया। ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जोकि पाकिस्तान की रहने वाली है। मारिया की कहानी आम लोगों जैसी नहीं है। बचपन में इस छोटी बच्ची ने अपने सारे कपड़े जला डाले और अपने लंबे बालों को भी काट कर छोटा कर दिया ताकि वो लड़कों जैसी दिख सके। 10 सालों तक मारिया खुद को भी यह यकीन दिलाती रहीं कि वह लड़की नहीं, लड़का हैं।