“सौ लंगड़े मिलकर पहलवान नहीं बन सकते हैं”

Publsihed: 17.Mar.2017, 18:57

नई दिल्ली। 2019 के लोकसभा चुनाव में महागठबंधन बनाने की बातों के सामने आने के बाद केंद्रीय मंत्री रामबिलास पासवान ने तंज कसा है। पासवान ने कहा कि एक पुरानी कहावत है कि सौ लंगड़े मिलकर भी एक पहलवान नहीं बन सकते हैं।

दरअसल यूपी और उत्तराखंड में बीजेपी की भारी जीत के बाद अब मोदी लहर को रोकने के लिए महागठबंधन बनाने के बात कही जा रही है। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा कि बीजेपी को हरा पाना कांग्रेस के अकेले की बात नहीं है इसलिए सभी पार्टियों को एकसाथ आना चाहिए।

इस्लाम कहता है औरतें घर की चार दीवारी में रहें

Publsihed: 17.Mar.2017, 13:18

लन्दन में आयोजित एक फिल्म फेस्टिवल के दौरान को ‘गर्ल अनबाउंड’ नाम की फिल्म को सिनेमा पर्दे पर उतारा गया। ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जोकि पाकिस्तान की रहने वाली है। मारिया की कहानी आम लोगों जैसी नहीं है। बचपन में इस छोटी बच्ची ने अपने सारे कपड़े जला डाले और अपने लंबे बालों को भी काट कर छोटा कर दिया ताकि वो लड़कों जैसी दिख सके। 10 सालों तक मारिया खुद को भी यह यकीन दिलाती रहीं कि वह लड़की नहीं, लड़का हैं।

सुषमा स्वराज हो सकती है राष्ट्रपति

Publsihed: 17.Mar.2017, 12:48

सुषमा स्वराज को राष्ट्रपति पद का उम्मींदवार बनाया जा सकता है | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मिशन 2019 की तैयारी के अंतर्गत अपने मंत्रीनंडल में व्यापक फेरबदल की तैयारी कर रहे हैं | रक्षामंत्री मनोहर पर्रीकर को गोवा का मुख्यमंत्री बना कर भेजे जाने के बाद उत्तरप्रदेश को भी अनुभवी और सख्त प्र्शाश्क की जरुरत महसूस की जा रही है | सौ से ज्यादा यादव पीसीएस अधिकारियों का प्रशासन में जिस तरह यादवों का कब्जा हो चुका है, उस से राजनाथ सिंह जैसा कोई अनुभवी ही निपट सकता है | अगर राजनाथ सिंह को उत्तरप्रदेश का मुख्यमंत्री बना कर भेजा जाता है और सुषमा स्वराज को राष्ट्रपति बना कर भेजा जाता है तो मोदी को नए

बूथ कैपचरिंग से निजात दिलाई है ईवीएम मशीन ने

Publsihed: 17.Mar.2017, 00:23

 त्रिभूवन /   भारतीय ईवीएम न तो जापान से आयात की गई हैं और न ही किसी योरोपीय देश से। ये भारतीय चुनाव आयोग ने भारत इलेक्ट्रोनिक्स लि. बंगलूर और इलेक्ट्रोनिक्स कार्पोरेशन ऑफ इंडिया हैदराबाद जैसी पब्लिक सेक्टर कंपनियाें के सहयोग से तैयार की थीं।

इसे विकसित करने में सुजाता रंगराजन का भी खूब योगदान रहा है। वे एक प्रसिद्ध एमआइटियन थीं। उन्होंने भारत इलेक्ट्रोनिक्स लि. बैंगलोर साथ खूब किया था और वे ईवीएम विकसित करने वाली टीम का अहम हिस्सा थीं। 

एक विधायक कांग्रेस छोड़ गया , पर्रिकार को मिले 22 वोट

Publsihed: 16.Mar.2017, 12:51

विधायक पद की शपथ लेने के बाद कांग्रेस के विधायक विश्वजीत राणे सदन से बाहर निकल गए और उस के तुरंत बाद मनोहर पर्रीकर सरकार 22 विधायकों के साथ गोवा विधानसभा में बहुमत साबित कर दिया | पीठासीन अधिकारी ने उन विधायकों को अपनी सीटों पर खड़े होने को कहा था, जो सरकार के खिलाफ थे | सिर्फ 15 विधायक सरकार के खिलाफ खड़े हुए, जब कि 22 बैठे रहे |

अमरेन्द्र ने सिद्धू को नहीं बनाने दिया डिप्टी सीएम

Publsihed: 15.Mar.2017, 20:28

चंडीगढ़ । पंजाब के डिप्टी सीएम को लेकर दो महीने से चल रही कयासबाजी पर कांग्रेस ने विराम लगा दिया है। नवजोत सिंह सिद्धू डिप्टी सीएम नहीं होंगे। पार्टी ने यह फैसला कैप्टन और सिद्धू के तेवर को लेकर भी किया है, ताकि दोनों के बीच में भविष्य में कोई तकरार न पैदा हो। चार बार सांसद रहने के कारण सिद्धू वरिष्ठता सूची में दूसरे नंबर पर रहेंगे।

ईवीएम में तो इंटरनेट का कनेक्शन ही नहीं होता

Publsihed: 15.Mar.2017, 17:33

देश में पांच राज्यों में हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में हार का सामना करने वाले दलों ने सीधे ईवीएम पर दोष मढ़ दिया है. ईवीएम पर दोष का मतलब बात चुनाव आयोग पर आ रही है. कहा जा रहा है कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की गई है. अब चुनाव आयोग ने साफ किया है कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ नहीं की जा सकती है. क्यों पढ़ें यह खास कारण-

झुका कोल्जियम , जजों की नियुक्ति का रास्ता साफ़

Publsihed: 15.Mar.2017, 11:01

नई दिल्ली। जजों की नियुक्ति के लिए भारत सरकार की शर्तें मानने को तैयार हुआ सुप्रीम कोर्ट का कॉलेजियम | मोदी का कद बढ़ते ही सुप्रीम कोर्ट के जजों ने भी तेवर ढीले कर लिए | मोदी सरकार ने जजों की नियुक्ति में जजों का ही अंतिम अधिकार बंद करने के लिए नेशनल जूडिशियल अपॉइंटमेंट कमिशन क़ानून बनाया था | जस्टिस खेहर की अध्यक्षता वाली संवैधानिक पीठ ने अक्टूबर 2015 में  नेशनल जूडिशियल अपॉइंटमेंट कमिशन पर रोक लगा दी थी | संवैधानिक पीठ दिसंबर 2015 में केंद्र को चीफ जस्टिस के साथ सलाह-मशविरा कर नया एमओपी तैयार करने कहा था। चीफ जस्टिस को कॉलेजियम के अन्

टीन की छत में रहने वाला चौथी बार बना विधायक

Publsihed: 14.Mar.2017, 21:44

इस विधायक ने दिखाया, राजनीति में ईमानदारी से भी होती है जनसेवा | यूपी चुनाव में भाजपा की जीत पर चहुं ओर मोदी लहर का शोर है, लेकिन मालूम होना चाहिए कि समाजवादी पार्टी के टिकट पर आजमगढ़ की निजामाबाद सीट से चुनाव जीतने वाले विधायक आलमबदी आजमी की राजनीति में एकमात्र क्वालिफिकेशन ईमानदारी है।