भोजपुरी के सुपरस्टार रवि किशन भाजपा में शामिल

Publsihed: 19.Feb.2017, 14:14

नई दिल्ली देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों के दौरान दलबदल का जोर जारी है, इसी बीच भोजपुरी गायक और दिल्ली प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी भोजपुरी के सुपर स्टार रवि किशन को भाजपा में ले आए हैं. रविकृष्ण आज दिल्ली में बीजेपी में शामिल हो गए हैं।

रईस,काबिल एवं जॉली गठजोड़ चल रहा है मन्दसौर में

Publsihed: 18.Feb.2017, 14:45

राघवेन्द्रसिंह तोमर

मन्दसौर - अक्षय कुमार,ऋतिक रोशन एवं शाहरुख़ खान द्वारा अभिनय की गई फ़िल्में रईस, काबिल एवं जॉली एलएलबी 2 देखी तब मन ने महसूस किया कि इन तीनों फिल्मों जैसा माफिया, प्रसाशन एवं जनप्रतिनिधियों का गठजोड़ चल रहा है मन्दसौर संसदीय क्षेत्र में । यह सिर्फ मेरे विचार नहीं बल्कि इस क्षेत्र में रहने वाले एक एक आम आदमी और मतदाता के अंतर्मन में यह बात उठ रही है पर डर,ख़ौफ़ एवं हिचक के चलते मन की बात कोई जुबान तक नहीं ला पा रहा । 

पूनम पांडे ने अपनी यह फोटो ट्विटर पर पेस्ट कर दी

Publsihed: 18.Feb.2017, 13:50

मुंबई। इंटरनेट सनसनी ऐक्ट्रेस पूनम पांडे ने एक बार फिर सोशल मीडिया  ट्विटर पर तहलका मचा दिया है। इस बार पूनम ने एक ऐसी भड़काऊ तस्वीर शेयर की है जिसे देख कर आपकी आंखे खुली की खुली रह जाएंगी।

वीडियो पर अपनी बोल्ड और हॉट तस्वीरें शेयर करने वाली पूनम पांडे ने एक तस्वीर शेयर की उसमें उनका शरीर का एक अंग साफ नजर आ रहा है। पूनम ने ट्वीट किया, ‘मैं अपने नए सीक्रेट प्रोजेक्ट की शूटिंग को लेकर काफी उत्साहित हूं।’

 

जब मनोज तिवारी ने प्रियंका से पूछा यह बेबी कौन है

Publsihed: 17.Feb.2017, 23:06

भाजपा प्रत्याशियों के प्रचार में कानपुर पहुंचे दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा की एक तरफ सपा और कांग्रेस साथ मिलाकर खडे है और गाना गा रहे है कि बेबी को बेस पसंद है और यूपी को अखिलेश पसंद है।  मैं प्रियंका से पूछना चाहता हूँ की यह बेबी को बेस पसंद है ,में यह बेबी कौन है।

अब जल्द से जल्द माँ बनाना चाहती है कंगना

Publsihed: 17.Feb.2017, 21:36

मुंबई। निजी संबंधों के उतार-चढ़ाव भरे दौर से गुजरने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत ने खुलासा किया है कि उन्हें ‘कोई खास’ मिल गया है, जिन्हें वह ‘दिल की गहराई’ से प्यार करती हैं। लेकिन वह उनके साथ सिर्फ डेटिंग का इरादा नहीं रखतीं, बल्कि उनके साथ शादी के बंधन में बंधना चाहती हैं। फिल्म समीक्षक अनुपमा चोपड़ा के डिजिटल प्लेटफॉर्म ‘कॉम्पैनियन’ में बातचीत के दौरान कंगना ने दिल खोलकर अपनी बात रखी और शादी के बारे में अपनी सोच जाहिर की।

नेहरू थे भारत में पहली बूथ केप्चरिंग के मास्टरमाइण्ड

Publsihed: 17.Feb.2017, 15:54

जवाहर लाल नेहरू देश में हुए प्रथम आम चुनाव में उत्तर प्रदेश की रामपुर सीट से पराजित घोषित हो चुके कांग्रेसी प्रत्याशी मौलाना अबुल कलाम आज़ाद को किसी भी कीमत पर ज़बरदस्ती जिताने के आदेश दिये थे। उनके आदेश पर उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमन्त्री पं. गोविन्द वल्लभ पन्त ने रामपुर के जिलाधिकारी पर घोषित हो चुके परिणाम बदलने का दबाव डाला और इस दबाव के कारण प्रशासन ने जीते हुए प्रत्याशी विशनचन्द्र सेठ की मतपेटी के वोट मौलाना अबुल कलाम की पेटी में डलवा कर दुबारा मतगणना करवायी और मौलाना अबुल कलाम को जिता दिया।

पाकिस्तान ने आतंकियो के खिलाफ चला अभियान

Publsihed: 17.Feb.2017, 14:19

कराची। पाकिस्तान के सिंध प्रांत में गुरुवार को लाल शहबाज कलंदर दरगाह पर हुए हमले के बाद सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों के खिलाफ सघन अभियान चलाया, जिसमें 35 आतंकवादी मारे गए। दरगाह पर हुए हमले में 100 लोगों की मौत हो गई, जबकि सैकड़ों घायल हो गए।

"देश के टूकडे करने वालो की नींद उडी

Publsihed: 17.Feb.2017, 12:49

जम्मू कश्मीर। सेना प्रमुख की चेतावनी के बाद देश के टुकडे करने वाली वामपंथी कौम के होश उड गए हैं ! वे सोशल मीडिया पर सेना प्र्मुख के बयान की आलोचना में मशगूल हैं, जब कि आम लोगों की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए जम्मू कश्मीर में प्रशासन ने आतंकी विरोधी अभियान वाली जगहों से दूर रहने की सलाह दी है। प्रशासन की सलाह का जिक्र सेना प्रमुख के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने आतंक विरोधी अभियानों में बाधा डालने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी थी।

दिए सख्त निर्देश

मायावती की सोशल इंजीनियरिंग कमजोर नही है

Publsihed: 13.Feb.2017, 07:57

समाजवाद की धुरी रहे सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के इस बार उत्तर प्रदेश के चुनाव में सक्रिय नहीं रहने के ‘साइड इफेक्ट’ अब नजर आने लगे हैं। मुलायम की गैर मौजूदगी में बसपा सुप्रीमो मायावती की ‘सोशल इंजानियरिंग’ का फार्मूला अखिलेश-राहुल की युवा जोड़ी पर भारी पड़ता नजर आ रहा है। मायावती ने पिछले विधानसभा चुनाव में अपने दलित वोट बैंक में ब्राह्मणों को जोड़ कर सरकार बनाई थी। लेकिन इस बार मायावती ने मुस्लिमों पर बड़ा दांव खेला है।