अमरेन्द्र ही रोक सकते हैं सोनिया की साज़िश

Publsihed: 21.Oct.2021, 11:27

अजय सेतिया / दूसरी बार कांग्रेस छोड़ने वाले पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राजनीति में कई उतार चढाव देखे हैं | पहली बार जब उन्होंने आपरेशन ब्ल्यू स्टार के खिलाफ 1984 में कांग्रेस छोडी थी | तो चौदह साल के बनवास के बाद 1998 में बेआबरू से हो कर कांग्रेस में लौटे थे | पहली बार इंदिरा गांधी के कहने पर राजीव गांधी अपने बाल सखा को राजनीति में लाए थे | दूसरी बार राजीव गांधी की पत्नी सोनिया गांधी उन्हें 1998 में कांग्रेस में वापस लाई | वह दोनों बार कांग्रेस में तब शामिल हुए , जब कांग्रेस खुद संकट में थी | चलिए अपन आप को शुरू से बताते हैं | राजीव गांधी और अमरेन्द्र सिंह दून स्कू

उत्तराखंड में फिर भयानक आपदा

Publsihed: 20.Oct.2021, 12:20

अजय सेतिया /अपन इस समय उस नैनीताल में हैं , जहां मंगलवार को लगातार बारिश का तीसरा दिन था | बारिश से चप्पे चप्पे पर बड़े पैमाने पर भूस्खलन हो रहा है | पता था कि सत्तताल से भीमताल तक जाना मुश्किल होगा | यह सिर्फ सात किलोमीटर का रास्ता है | फिर भी अपनी काटेज से इसलिए निकले कि हार्ट की एक दवा खत्म हो गई थी | पर आधे किलोमीटर के बाद ही वापिस लौटना पड़ा क्योंकि भूस्खलन से रास्ता बंद हो चुका था | पर शाम तक जेसीबी से रास्ता खोला जा चुका था | जैसे ही रास्ते खुलने की खबर मिली अपन दुबारा चल पड़े | पर उस के बाद जो देखने को मिला भयावह था | भीमताल से पहले ही सडक पर भारी मलबे का सामना करना पड़ा | थोड़ा आगे

माब लिंचिंग के साम्प्रदायिक ख़तरे

Publsihed: 15.Oct.2021, 21:53

अजय सेतिया  / 2015 में दादरी में मोहम्मद इखलाक की मॉब लिंचिंग का मामला अंतर्राष्ट्रीय खबर बना था | यह गौकशी का मामला था | वैसे यह कोई पहली बार नहीं हुआ था | गौकशी के खिलाफ यूपीए शासन काल में और उस से पहले कांग्रेस सरकारों के समय भी मॉब लिंचिंग का इतिहास रहा है | लेकिन मोहम्मद इखलाक की मॉब लिंचिंग क्योंकि हिंदुत्ववादी मोदी राज में हुई थी , इसलिए यह अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा बना | जिन्होंने इखलाक की मॉब लिंचिंग अंतर्राष्ट्रीय शर्म का मुद्दा बनाया उनके लिए गौ माताओं की मॉब लिंचिंग कभी मुद्दा नहीं रहा | गऊओं की मॉब लिंचिंग के कई वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल होते रहे हैं | भारत में मनुष्यो

अब बच्चों की कोवेक्सीन पर राजनीति

Publsihed: 13.Oct.2021, 09:44

अजय सेतिया / कई बार कन्फ्यूजन से भी फेक न्यूज बनती है | मंगलवार को यही हुआ , जब सभी टीवी चेनलों और वेबसाईटों ने बच्चों की कोरोना वेक्सीन को मंजूरी की खबर चला दी | असल में डीजीसीआई की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने कोवैक्सीन की बच्चों से जुडी वेक्सीन को मंजूरी की सिफारिश की है | बच्चों की वेक्सीन बनाने के लिए असल में भारत का मुकाबला चीन से है | क्योंकि इसे स्वदेशी फार्मा कंपनी भारत बायोटेक ने तैयार किया है | इसलिए देशभक्ति के अति उत्साह में मीडिया ने दुनिया की पहली बच्चों की वेक्सीन को मंजूरी की खबर चला दी | चीनी वैक्सीन कोरोनावैक का 3 से 17 साल तक के बच्चों पर ट्रायल किया गया है |

तालिबान के रास्ते आतंकवाद की वापसी

Publsihed: 11.Oct.2021, 21:31

अजय सेतिया / शशी थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है कि बात तो पीओके जीत कर लाने की थी | जम्मू कश्मीर से 370 हटाई गई थी तो देश में ऐसा ही माहौल बनाया गया था | जब से मोदी पीएम बने हैं , देश में आतंकवाद काबू में था | कश्मीर में पत्थरबाजी की घटनाएं जरुर हो रही थीं | पिछले दो साल से वह भी काबू में थीं | जो लोग दावा कर रहे थे कि 370 हटाने के बाद कश्मीर के हालात बेहद खराब हो जाएंगे | वहां बगावत हो जाएगी , उन्हें निराशा हाथ लगी थी | अब जब पिछले एक हफ्ते में आतंकवाद लौट आया है तो उन लोगों की बांछें खिली हैं | वे शान्ति से परेशान थे | शशी थरूर की टिप्पणी इसी ओर इशारा करती हैं | हाँ यह सच

गैंग रेप पर भी राजनीति कर रहे उद्धव ठाकरे

Publsihed: 23.Sep.2021, 21:41

अजय सेतिया / पुणे के बाद महाराष्ट्र के ठाणे में भी दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई है | 30 लोगों ने 14 साल की लड़की से गैंगरेप किया | सिर्फ 20 दिन पहले पुणे में भी 14 साल की लडकी का गेंग रेप होने की खबर आई थी | सड़क किनारे ऑटोरिक्शा का इंतजार कर रही 14 साल की नाबालिग को कुछ लोग अपने साथ उठा ले गए थे | उठा ले जाने वाले ऑटो ड्राईवर ही थे | पांच अलग-अलग जगह ले जाकर उसके साथ गैंगरेप किया गया था | पुणे पुलिस ने जिन 14 लोगों को अरेस्ट किया था | इसमें 11 ऑटो ड्राइवर और दो रेलवे के कर्मचारी भी शामिल थे | पुलिस की रिपोर्ट पर कितना विशवास करें , कितना न करें , क्योंकि पुलिस ने लडकी के प्रेमी को

अमरेन्द्र सिंह “ठोकेंगे” सिद्धू को

Publsihed: 22.Sep.2021, 22:35

अजय सेतिय/ मीडिया में एक तबका है जो कांग्रेस के हर कदम को तुरुप का पत्ता बताते रहते हैं | जब 2009 और फिर 2014 के चुनाव में राहुल गांधी फेल साबित हुए | तो उन्होंने प्रियंका गांधी को तुरुप का पत्ता बताना शुरू कर दिया था | 2019 के चुनाव में सक्रिय रूप से उभरने के बाद जब वह अपने भाई राहुल गांधी की अमेठी सीट भी नहीं बचा पाई | तो भक्त मीडिया ने कांग्रेस की छोटी छोटी बातों को तुरुप का पत्ता लिखना शुरू किया | अब पंजाब में अमरेन्द्र सिंह को हटा कर चरण जीत सिंह चन्नी को सीएम बनाने को तुरुप का पत्ता बता रहे हैं | जबकि यही बात उन्होंने तब नहीं कही और लिखी जब भाजपा ने कर्नाटक में लिंगायत येदुयुरप्प

हारे हुए नेता से उम्मीद क्यों

Publsihed: 22.Sep.2021, 07:47

अजय सेतिया /अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन बड़े कन्फयूजिंग सिग्नल दे रहे हैं | एक तरफ उन्होंने चीन की आक्रामकता को लगाम लगाने के लिए आस्‍ट्रेलिया के साथ परमाणु पनडुब्‍बी और टामहाक मिसाइलों का ऐतिहासिक आकस समझौता किया है | जिससे दक्षिण चीन सागर और हिंद प्रशांत क्षेत्र में चीन की दादागीरी पर अंकुश लगेगा | तो दूसरी तरह मंगलवार को उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कहा कि अमेरिका चीन के साथ "नया शीत युद्ध" नहीं चाहता | चीन के साथ टकराव टालने के संकेत उस समय भी मिले थे जब दो दिन पहले उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से फोन पर बात की थी | उसी संकेत को आगे बढाते हुए जोई बिडेन