उत्तराखंड के कमलेश और आर्यन क्रिकेट टीम में

Publsihed: 04.Dec.2017, 16:08

नई दिल्ली | क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उत्तराखंड के के दो खिलाड़ियों कमलेश नगरकोटी और आर्यन जुयाल को भी वर्ल्ड कप के लिए टीम में शामिल किया है।दोनों ही उत्तराखंड के कुमाऊ से ताल्लुक रखते हैं | आर्यन जुयाल हल्द्वानी से ताल्लुक रखते हैं और कमलेश नागाकोट्टी बागेश्वर भरसीला से |

आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप अगले साल जनवरी में न्यूजीलैंड की मेजबानी में होने वाला है। ऐसे में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानि BCCI ने भी अपनी कमर कस ली है। इसी क्रम में बोर्ड ने इस बार पृथ्वी शॉ को भारतीय टीम की कमान सौंपी है। 

भारतीय टीम :

भाजपा में कहाँ अध्यक्ष का चुनाव होता है : कांग्रेस

Publsihed: 04.Dec.2017, 15:42

नई दिल्ली | भारतीय जनता पार्टी की और से राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनाने पर परिवारवाद का आरोप लगाने और चुनाव को धोखा करार दिए जाने पर क्लान्ग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है | कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमल नाथ ने भाजपा पर पलट वार करते हुए कहा क्या बीजेपी के अध्यक्षों का चुनाव होता आया है? क्या नितिन गडकरी मतदान प्रक्रिया के जरिए चुने गए थे? जवाब पहले उनको देना है। 

कांग्रेस अब मुसलमानों को मंच पर नहीं बिठा रही : नीतीश

Publsihed: 04.Dec.2017, 15:27

पटना। गुजरात चुनाव को लेकर घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी 22 सालों के सत्ता में काबिज बीजेपी को हटाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। वहीं नीतीश कुमार ने दावा करते हुए कहा कि गुजरात में भाजपा मजबूती से विधानसभा चुनाव जीतेगी। उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि गुजरात में कांग्रेस डरी हुई क्यों है, जिस कारण उसे ‘जनेऊ’ दिखाना पड़ रहा है। नीतीश ने सवालिया लहजे में कहा कि हम लोगों ने कभी जनेऊ नहीं पहना तो क्या हम हिंदू नहीं हैं?

कल से राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष, पर्चा दाखिल

Publsihed: 04.Dec.2017, 14:34

नई दिल्लीः राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन भर दिया है | वह कांग्रेस अध्यक्ष का पद अपनी मां सोनिया गांधी से ग्रहण करेंगे, जो 19 साल तक कांग्रेस अध्यक्ष रही | नामांकन दाखिल करने के समय पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा, अहमद पटेल, सुशील कुमार शिंदे, कमलनाथ, गुलाम नबी आजाद, अशोक गहलौत, तरूण गोगोई, शीला दीक्षित और मोहसीना किदवई भी मौजद थीं |

गाय की अंतेष्टि ,तेहरवीं और समाधी भी

Publsihed: 02.Dec.2017, 19:33

बुलंदशहर। हिन्दुओं में बताया गया है कि गाय हमारी माता है, हम श्रद्धा से गाय को माता मानते हुए आये हैं, लेकिन एक गाय की मृत्यु हो जाने पर पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गयी। आस- पास के क्षेत्र के लोग गाय की शव यात्रा में शामिल हुए। गाय अंतिम संस्कार, गाय को दबा कर किया गया। साथ ही दबाने वाले स्थल को गाय की भव्य समाधि बना दिया गया। इतना ही नहीं इसके बाद गाय की समाधि एक बाबा की कुटिया में बनाई गयी।

तीसरे दिन गाय का तीजा किया गया

दूसरी तिमाही में विकास दर बढ़कर 6.3 फीसदी हुई

Publsihed: 30.Nov.2017, 22:16

नई दिल्ली | जीएसटी और नोटबंदी से अर्थव्यवस्था पर छाई मंदी का दौर खत्म हो गया लगता है | जीडीपी ग्रोथ रेट यानी सकल घरेलू उत्पाद की विकास दर में वृद्धि देखने को मिली है |दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर तिमाही) में बढ़कर जीडीपी ग्रोथ रेट 6.3 फीसदी हो गई है | पिछली तिमाही में 5.7 फीसदी थी |राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलामनबी आज़ाद ने इन आंकड़ों को फर्जी बताते हुए कहा कि यह चुनावी शोशा है |

सोनिया गांधी के करीबी पर ईडी की छापेमारी

Publsihed: 30.Nov.2017, 21:34

नई दिल्ली। प्रवर्तन दल ने गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव राज्‍यसभा सांसद अहमद पटेल के करीबी लोगों के कानों पर छापा मारा है। खबर मिली है कि यह छापे दिल्ली में मारे गए हैं। वहीं यह भी पता चला है कि ईडी को खबर मिली थी कि करीब 5500 करोड़ का घोटाला किया गया था।

सोमनाथ मंदिर जा कर घिर गए राहुल गांधी

Publsihed: 29.Nov.2017, 20:52

अजय सेतिया / राहुल गांधी ने सोमनाथ मंदिर जा कर गुजरात के पुराने जख्म हरे कर दिए | राहुल गांधी के पिता राजीव गांधी के नाना सोमनाथ मंदिर का पुनर्निर्माण किए जाने के खिलाफ थे | नेहरु सरकार के गृह मंत्री सरदार पटेल सरकारी खर्चे पर सोमनाथ मंदिर का निर्माण करवाना चाहते थे | सोमनाथ मंदिर सदियों से हिन्दुओं की अस्मिता का सवाल बना रहा |  तुर्कों, अफगानियों और मुगलों ने इसे बार बार तोड़ा था | अपन हिन्दू कांग्रेसी नेताओं के मदिर बनवाने की जिद्द और नेहरु के विरोध की चर्चा बाद में करेंगे | पहले मंदिर को बार बार तोड़ने का इतिहास जान लें | सोमनाथ मंदिर ईसा से पहले अस्तित्व में था | दूस

तुर्कों,मुगलों से हार के बावजूद हिन्दुओं ने धर्म कैसे बचाया

Publsihed: 27.Nov.2017, 20:58

नई दिल्ली | तुर्कों ,अफगानियों और मुगलों से हिन्दू राजाओंए हार के बावजूद हिन्दूओं ने नम की रक्षा की, अलबत्ता हिन्दूए देवताओं की मूर्तियों की भी रक्षा की | अंग्रेजों के लिखे इतिहास और नेहरू की छत्रछाया में वामपंथियों की और से लिखे गए भारत के इतिहास को क्या नए सिरे से लिखने की जरुरत है | इस विषय पर शनिवार 25 नवम्बर को नवगठित मंच जिज्ञासा की और से एक गोष्ठी रखी गई थी | जिस में इतिहासकार मीनाक्षी जैन ने शोध पर आधारित अपना वक्तव्य रखा, जिस पर उन से स्प्श्तिकर्ण भी मांगे गए | संलग्न वीडियों हिन्दूओं की और से धर्म रक्षा के लिए किए गए प्रयासों का शोध पर आधारित खुलासा |