जवाब कब और कैसे, मोदी तय करेंगे

Publsihed: 21.Sep.2016, 19:38

प्रधानमंत्री के घर शाम को होने वाली चार वरिष्ठ मंतियो की बैठक में जाने से पहले रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बुधवार को पहली बार खुलकर बोला। उन्होने कहा कि कुछ पत्रकार यह समझते हैं कि उन्हे मुझ से ज्यादा पता है, वह उन खबरो पर टिप्प्णी कर रहे थे, जिन में कहा गया था कि भारत आज रात आप्रेशन शुरु कर देगा. 

पाकिस्तान को जवाब देने के सवाल पर रक्षा मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान को जवाब कब और कैसे देना है, ये प्रधानमंत्री तय करेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा था कि उरी हमले के पीछे जो भी लोग हैं, उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। इसे सिर्फ बयान न समझा जाए। पीएम ने कहा है तो जरूर कुछ होगा।

सभी सीमाओ पर चौकसी

Publsihed: 21.Sep.2016, 19:15

जम्मू-कश्मीर में सख्ती की वजह से पाकिस्तानी आतंकी राजस्थान और गुजरात बॉर्डर से भारत में घुस सकते हैं। पंजाब और राजस्थान बॉर्डर से सटे इलाके में सीमा पार हलचल को देखते हुए खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों ने बॉर्डर पर हाई अलर्ट कर दिया है! राजस्थान में बॉर्डर के आसपास के गांवों में लोगों को शिविर लगाकर जानकारी दी जा रही है कि पाकिस्तान से आने वाले फोन पर कोई भी सूचना साझा न की जाए!  (कतरन)

उत्तराखंड में अफसर बने चुनावी गोटिया

Publsihed: 21.Sep.2016, 16:43

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से पहले रावत सरकार ने बड़े पैमाने पर अफसरों केे ट्रांसफर किए हैं। प्रदेश सरकार ने 38 आईएएस और पीसीएस अफसरों के ट्रांसफर किए हैं। इनमें दो जिलाधिकारियों समेत 7 आईएएस और 31 पीसीएस अफसर शामिल हैं।

भारत ने उठाया उरी,जर्मनी खुल कर आया साथ,बुगती ने पाक को किया बेनकाब 

Publsihed: 20.Sep.2016, 14:16

सन्युक्त राष्ट्र की मानवाधिकार परिषद में आज ब्लूचिस्तान रिपब्लिकन पार्टी के प्रतिनिधि अब्दुल बुगती ने कहा कि पाकिस्तान को ब्लूचिस्तान में नरसन्हार से रोका जाए. उन्होने कहा कि पाक सेना ने 13000 से ज्यादा ब्लूची नागरिको को मार दिया है. उन्होने अपने भाषण में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से दिये गए समर्थन की भी तारीफ की. 

भारत ने उठाया उरी और ब्लूचिस्तान

मुह तोड जवाब का इंतजार / अजय सेतिया 

Publsihed: 19.Sep.2016, 22:16

उरी में हुए पाकिस्तान के आतंकवादी हमले के मृतको की संख्या 18 हो गई है. चौदह साल पहले 2002 में हुई कालूचक्क की आतंकी वारदात के बाद यह सेना पर हुआ सब से बडा हमला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुह तोड जवाब की धमकी दी है. गृह मंत्री, रक्षा मंत्री, वित्त मंत्री सभी के बयान पाकिस्तान को सबक सिखाने वाले हैं.  मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद पठानकोट के बाद यह दूसरी वारदात हो गई है जिस में भारत की सेना को निशाना बनाया गया है. सभी मंत्री बयान बहादुर बने हुए हैं. जबकि मोदी के साथ खडा देश पाकिस्तान को मुन्ह तोड जवाब का इंतजार कर रहा है.

फैशनिस्टा बनी एलेना फ़र्नान्डिस

Publsihed: 19.Sep.2016, 16:55

अभिनेत्री एलेना फर्नांडिस हमेशा से अपने स्टाइल आट्टमेंट के लिए जानी जाती हैं, हाल ही में लन्दन में आयोजित एशियाई अचीवेरस अवार्ड के दौरान उनके ड्रेसिंग स्टाइल ने फैशन क्रिटिक को अपनी ओर आकर्षित किया है

हर कोई बॉलीवुड सेलेब्स को और उनके स्टाइल स्टटेमेंट को देखना पसंद करता है हाल ही में वे इस अवार्ड फंक्शन में सनम रतनसी द्वारा स्टाइल और सोनाली गुप्ता द्वारा डिजाईन ड्रेस में नज़र आयी. वह पर मौजूद सरे लोगो की निगाहे एलेन पर ही टिकी रह गयी.

कैंसर पीड़ित बच्चों से मिली सोनम कपूर। 

Publsihed: 19.Sep.2016, 15:31

सोनम कपूर हाल ही में टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल में कैंसर पीड़ित बच्चो से मिलने गयी थी वहां उन्होंने उन सारे बच्चो संग खूब बाते करते हुए कई घण्टे बच्चो संग बिताये। सोनम ने वहा बच्चो के लिए कहानियां सुनाई,कविताएं पढ़ी तथा बच्चो को कई गिफ्ट्स भी दिए।

जैश के चारो आतंकी पाक से आए थे: डीजीएमओ

Publsihed: 18.Sep.2016, 23:32

उरी सेक्‍टर में आतंकी हमले को लेकर डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन रणबीर सिंह ने बड़ा खुलासा किया है। लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा है कि मारे गए आतंकवादियों से जो सामान मिला है वो पाकिस्तान का है और चारों आतंकी कुख्यात संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हैं।

अखिलेश संसदीय बोर्ड के चेयरमैंन

Publsihed: 17.Sep.2016, 16:21

चाचा भतीजे में विवाद खत्म करने के लिए मुलायम सिंघ ने जहाँ चाचा को प्रदेश सपा का अध्यक्ष बने रहने दिया वहाँ चाचा शिवपाल को सारे विभाग भी दिला दिए, लेकिन चुनाव में टिकट बांटने के अधिकार सम्बधी अखिलेश की मांग के आगे झुकते हुए अखिलेश को संसदीय बोर्ड का चेयरमैंन बना दिया है. वहीं पता चला है कि अखिलेश ने चाचा शिवपाल से पीडब्‍ल्‍यूडी विभाग छीन लिया है।जबकि चिकित्सा और आयुष मंत्रालय चाचा शिवपाल यादव को दिया है। विवाद बढ़ने के साथ अखिलेश ने पीडब्‍ल्‍यूडी समेत तीन अहम मंत्रालय शिवपाल से वापस ले लिए थे।